पर्वतारोहण के बारे में जानकारी हिंदी में Information About Mountaineering In Hindi

पर्वतारोहण के बारे में जानकारी हिंदी में Information About Mountaineering In Hindi

पर्वतारोहण का शाब्दिक अर्थ पर्वत पर चढ़ना होता है| यह एक रोमांचकारी और जोखिम भरा अभियान है| यह अभियान एक दिन में संपूर्ण होने वाला नहीं होता| यदि इसे खेल कंहे, तो यह 2-3 दिन से लेकर 3-4 महीने तक चलने वाला है| यह खेल प्रकृति पर विजय प्राप्त करने वाला खेल होता है|

इस खेल में एक पर्वतारोही का संघर्ष उस पर्वतमाला कि चोटी से होता है, जिस पर चढ़ना बहुत कठिन होता है| उस पर चढ़ना ही उस पर विजय प्राप्त करना होता है| इस विजय यात्रा में एक पर्वतारोही वे सब चींजे लेकर आगे बढ़ता है, जिनकी उसे आवश्यकता होती है| खाने-पीने कि चीजों से लेकर रस्सी आदि व छोटे-मोटे उपकरण भी जो ऊंचाई पर चढ़ने के लिए सहायक हो|

पर्वतारोहण का आरंभ लगभग 150 वर्ष पूर्व उन अंग्रेज़ो से हुआ था, जो प्रकृति के साथ संघर्ष करने में बड़े-से-बड़ा जोखिम उठाने में कभी पीछे नहीं रहते| इसका आरंभ केवल भ्रमण के रूप में आनंद प्राप्त करने के उद्देश्य से हुआ था| सन् 1850 में जब आल्पस पर्वत पर चढ़ने में कुछ लोगों ने सफलता प्राप्त की थी, इस घटना से इसकी लोकप्रियता बढ़ती चली गई थी| पुरुषों से प्रारम्भ किया गया यह खेल महिलाओ तक भी आसानी से पहुंच गया| माहिलाओ ने भी उन पर्वत-श्रृंखलाओं की चोटियों पर विजय प्राप्त की, जंहा पहले पुरुषों का चढ़ना भी केवल स्वप्न मात्र था|

भारत मे इस अभियान को क्रीडा के रूप में लोकप्रिय बनाने वाले आर.एल. होल्डवर्थ तथा जी.ए. मार्टिन थे| ये दोनों अंग्रेज़ देहारादून के स्कूल में अध्यापक थे| इन्होने सन् 1940 में इस साहसिक अभियान कि शुरुआत की थी|

एवेरस्ट विजय अभियान Everest Victory Campaign

भारत में पर्वतारोहण का अर्थ केवल एवरेस्ट चोटी पर पहुंचना ही  माना जाता है, क्योकि एवरेस्ट संसार की सबसे ऊंची चोटी है| माउंट एवरेस्ट का नाम जॉर्ज एवरेस्ट के नाम पर रखा था, जो सन् 1852 में भारत के गवर्नर जनरल थे| एवरेस्ट विजय करने का स्वप्न उन डीनो अनेक लोगों के मन में था, लेकिन यह पूर्ण नहीं हो रहा था| सन् 1953 में 28 मई को ब्रिटिश अभियान दल के दो सदस्य-तेनजिंग नोरगे,सर एडमंड हिलेरी ने माउंट एवरेस्ट पर विजय प्राप्त की थी| यह विश्व के लिए सबसे अधिक चौंकाने वाली बात थी| आगे चलकर माहिलाओ ने भी इस विजय को कई बार दोहरा दिया है| अब तो कई पर्वतारोहण संस्थान अस्तित्व में आए हुए है (mountaineering institute in India) , जो निम्नलिखित प्रकार है-

1. हिमालय पर्वतारोहण संस्थान मनाली (हिमाचल प्रदेश)
2. हिमालय पर्वतारोहण संस्थान उत्तरकाशी (उत्तराखंड)
3. हिमालय पर्वतारोहण संस्थान दार्जिलिंग (पश्चिम बंगाल)

[जाने –शतरंज के नियम और खेलने के तरीके Chess Game Rules and Tricks in Hindi]

भारतीय पर्वतारोहण संस्थान Indian Mountaineering Institute

इस संस्थान की स्थापना सन् 1958 में की गई थी| यह उन युवकों और युवतियों को प्रोत्साहन देता है, जो प्रकृति पर विजय प्राप्त करने का जोखिम उठा सकते है| इस संस्थान के कई अभियान दल हिमालय की अनेक ऊंची-ऊंची चोटियों में सफल हुए है|

Searches related to पर्वतारोहण के बारे में जानकारी हिंदी में Information About Mountaineering In Hindi

  • पहाड़ चढ़ने उपकरणों के नाम Mountain climbing equipment names
  • भारतीय पर्वतारोहियों के नाम Indian climbers
  • पर्वतारोही की जीवनी Mountaineer’s biography
  • भारतीय पर्वतारोही indian climbers