mehandipur balaji temple mandir history in hindi

मेहंदीपुर बालाजी मंदिर Mehandipur Balaji Temple

मेहंदीपुर बालाजी मंदिर (Mehandipur Balaji Temple) एक हिन्दू मंदिर है और यह मन्दिर हिन्दुओं के देवता हनुमान जी का है जो कि भगवान राम के भक्त के रूप में जाने जाते है | यह मंदिर दौसा राजस्थान में स्थित है | बालाजी नाम भी हनुमान जी से ही लिया गया है क्योकि बाला का मतलब बचपन से होता है और भारत में कई जगहों पार हनुमान जी को बालक रूप में माना जाता है |

यह मंदिर कई मंदिरों से भिन्न है क्योकि यह शहर में स्थित है जबकि जयादातर मंदिर ग्रामीण और दूर दराज इलाकों में होते हैं (जैसे वैष्णो देवी, मैहर आदि ) |

यह मंदिर भूत प्रेत जैसी समस्याओं से निजात दिलाने के रूप में जाना जाता है | इसलिए जो लोग भूत – प्रेत से पीड़ित होते है वे इस मंदिर में जाते है और उनकी मान्यता है की उन्हें इससे लाभ होता है |

पुराना मेंहदीपुर गाँव छोटी सी पहाड़ी के किनारे बसा है और यहां पार अधिक विकास नहीं हुआ है |

मंदिर के सबसे पहले महंत श्री गणेशपुरी जी महाराज है और अभी इस समय के महंत का नाम है श्री किशोरपुरी जी जोकि शाकाहार का बहुत कठोरता से पालन करते हैं और धर्मिक पुस्तकों की पढ़ाई भी करते है |

बालाजी मंदिर के सामने सियाराम भगवान का मंदिर है जोकि बहुत ही खूबसूरत है और उसमे रखी सियाराम भगवान की मूर्ति भी बेहद खूबसूरत है | बुरी आत्माओं से पीड़ित को अर्जी, सवामणि, दरखास्त, बूदी के लड्डू के बालाजी में भोग से आराम मिलता है | यहां पार शनिवार और मंगलवार के दिन काफी भीड़ होती है और दूर – दूर से लोग यहां आते हैं क्योकि ये दोनों दिन भगवान हनुमान के लिए होते है |

इस मेहंदीपुर बालाजी मंदिर के आसपास कई और मंदिर है जैसे – अंजनी माता मंदिर, तीन पहाड़ पार काली माता मंदिर, पंचमुखी हनुमान जी, सात पहाड़ पार गणेश जी का मंदिर, समाधिवाले बाबा |

इस मंदिर से मिलने वाला प्रसाद आप – पास के स्कूलों, अस्पताल, बस अड्डे आदि में बांटा जाता है |

यहां कैसे पहुंचे How To Reach Mehndipur Balaji Temple

यह मंदिर जयपुर से 103 किलोमीटर दूर है और दौसा से 38 Km. सबसे पास का रेलवे स्टेशन है हिन्दौन रेलवे स्टेशन जोकि मंदिर से 44 Km दूर है और बंदिकुई रेलवे स्टेशन जोकि 36 Km है | यह जयपुर और आगरा हाइवे से 3 Km दूर स्थित है

Mehndipur Balaji Temple Timings मेहंदीपुर बालाजी मंदिर की समय सारणी

  • सर्दियों में – सुबह 6 बजे से रात 8 बजे तक
  • गर्मियों में – सुबह 6 बजे से रात 9 बजे तक
  • दर्शन में लगने वाला समय – लगभग 90 मिनट
loading...

Kaise Aur Kya