प्लास्टिक टाउन खेल और नियम Plastic Town Game Khelne Ka Tarika

प्लास्टिक टाउन खेल और नियम Plastic Town Game Khelne Ka Tarika In Hindi

आज का युग वैज्ञानिक युग है| नई ख़ोजे हो रही है और भविष्य में यह क्रिया निरंतर चलती रहती है| बच्चे भविष्य मे वैज्ञानिक है, अतः उनमे यदि अभी से रचनात्मक शक्ति का विकास शुरू कर दिया जाए, तो उनके भविष्य की राह आसान हो जाती है| बच्चों के लिए कुछ ऐसे खेलों का विकास किया गया है, जिनके द्वारा बच्चों मे रचनात्मकता का उदय किया जा सकता है| यह खेल इसी श्रेणी में आता है| इसके द्वारा बच्चों के अंदर नए-नए विचारो का जन्म होता है| वैसे भी बच्चो का स्वभाव रचनात्मक होता है| इस खेल से उनकी प्रतिभा और निखार आती है| इस खेल में बच्चे के अंदर जन्म लेती है कल्पना कैसे आकार में ढाली जा सकती है, यह सिखाया जाता है|

यह खेल मितव्ययी खेलो की श्रेणी में आता है| इसके लिए किसी लंबे-चौड़े मैदान की आवश्यकता भी नहीं है| मकान के कोने में भी खेला जा सकता है| एक अभिभावक अपने बच्चे के अंदर सृजन शक्ति के विकास के लिए इस खेल की अपनी देख-रेख में भी व्यवस्था कर सकता है|

प्लास्टिक टाउन खेल की सामग्री

इसके लिए कुछ खेल की सामग्री की व्यवस्था करनी पड़ती है| यह सामग्री किसी खेल के सामान की दुकान से आसानी से मिल जाती है| दुकानदार इस खेल के साज-सामानों की एक किट तैयार करके बच्चों को दे रहे है| उस किट में निम्नलिखित सामग्री होती है-

 1.विभिन्न त्रिकोणमितीय आकृति की गोंटियां
 2.पहिए
 3.रोड
 4.टोपीनुमा गोंटियां
 5.आकृति बने कागज
  1. विभिन्न त्रिकोणमितीय आकृति की गोंटियां – ये गोंटियां कई आकार की होती है, जैसे चौकोर, आयताकार, त्रिभुजाकार, खिड़कीनुमा आदि| ये थोड़ी-सी उभार लिए हुए होती है तथा इनके नीचे छोटे-छोटे खाने बने होते है और ऊपर छोटे-छोटे से कांटे लगे होते है, ताकि ये एक-दूसरे से चिपक संके| इन्हे जोड़कर ही आकृतियों का निर्माण किया जाता है|
  2. पहिए – यदि कोई आकृति किसी वाहन से संबंधित हो, जैसे बस, कार, ट्रेन आदि, तो उनके नीचे लगाने के लिए छोटे-छोटे पहिए भी होते है| इन पहियों के ऊपर छोटे-छोटे कांटे भी लगे होते है, जिससे कि ये आसानी से किसी वाहन में लग सके|
  3. रोड – ये पाइप जैसे लंबी-लंबी होती है| इनका प्रयोग झूले, भवन, पाइप आदि लगाने में होता है| इनके दोनों सिरों पर कांटे लगे होते है, ताकि इनकी सहायता से इन्हे किसी भवन आदि में लगाया जा सके|
  4. टोपीनुमा गोंटियां – ये भवन बनाने की सामग्री होती है| इनका प्रयोग मकान,फैक्ट्री की चिमनी लगाने के लिए किया जाता है| इनके द्वारा भवनों की साज-सज्जा की जाती है|
  5. आकृति बने कागज – उस किट में कुछ ऐसे कागज भी आते है, जिन पर भवनो, फैक्ट्रियों, वाहन आदि के नमूने बने होते है| इनकी सहायता से बच्चे विभिन्न आकृतियों का निर्माण कार सकते है|

 खेलने का तरीका How To Play

खेल शुरू करते ही प्रत्येक बच्चे को एक-एक आकृति वाला कागज तथा समान रूप से पहिए, रोड, टोपीनुमा गोंटियां तथा त्रिभुजाकार गोंटियां दे दी जाती है| इस निर्माण के लिए समय निश्चित किया जाता है| निश्चित समय में प्रत्येक खिलाड़ी को अपनी इच्छानुसार आकृति का निर्माण करना होता है| जो भी खिलाड़ी इस निश्चित समय में सबसे सुंदर आकृति का निर्माण कर देता है, वह विजयी घोषित कर दिया जाता है| इसके निर्णय के लिए एक निर्णायक भी नियुक्त किया जा सकता है, लेकिन ऐसे व्यक्ति को निर्णायक नियुक्त किया जाना चाहिए, जिसकी निष्पक्षता में किसी भी खिलाड़ी को संदेह न हो| सभी खिलाड़ियों को निर्णायक का निर्णय स्वीकार करना अनिवार्य है|