बारिश के मौसम गाड़ी चलाते समय जरूरी सावधानियां

इन दिनों बारिश का मौसम है और आप बारिश के मौसम में इसका मजा जरूर ले रहे होंगे | लेकिन कुछ ऐसे इलाके और शहर है जहां पर बारिश की वजह से पूरी दिनचर्या रुक गई है; जैसे कि आपने सुना ही होगा कि मुंबई में काफी बारिश है और बाढ़ जैसी स्थिति है. इसी तरह कई और शहरों में भी ऐसी स्थिति बनी हुई है.

माना कि आपको ड्राइविंग बड़ी अच्छी तरह से आती है, लेकिन थोड़ी सी भी लापरवाही या असावधानी आपकी परेशानी का कारण बन सकती है | अतः कुछ बातों का ध्यान रखना आपके लिए सुरक्षा कवच का काम करेगा | आइए जानते हैं कि वह बातें क्या है –

1. ढलान पर जाते समय तेजी से ब्रेक ना लगाएं इस स्थिति से बचने के लिए अपनी गाड़ी की स्पीड कम रखें तथा रुकने का स्थान आने पर उससे पहले ही धीरे-धीरे स्पीड कम करते हुए गाड़ी को रोके.

2. बार-बार ब्रेक लगाने से बचें |

3. आगे वाले वाहन से सुरक्षात्मक दूरी बनाए रखें | क्योंकि कभी-कभी बारिश में ब्रेक स्लिप कर जाते हैं या ब्रेक जोर से लगाने पर गाड़ी स्लिप कर जाती है |

4. इन दिनों बारिश में विशेष ध्यान दें कि आपकी गाड़ी की लाइट सही काम कर रही हूं | क्योंकि इनसे आपको तो सामने का व्यू साफ-साफ दिखता ही है, साथ ही सामने वो पीछे से आने वालों को भी आपकी गाड़ी अच्छी तरह दिख जाती है |

5. अगर आपको लगता है कि बारिश बहुत तेज है और इससे ड्राइविंग में परेशानी हो रही है या सामने से आने वाली गाड़ियों की बीम भीगी सड़क पर अधिक चकाचौंध कर रही है तो गाड़ी को धीरे धीरे चलाएं या पार्किंग सिग्नल देते हुए गाड़ी को एक तरफ खड़ी कर ले |

6. सड़क के स्टाफ साइन तथा विशेष हिदायत बोर्ड का पूरा ध्यान रखते हुए गाड़ी को चलाएं |

7. अनजाने वह पानी भरे रास्ते पर भूलकर भी न जाएं, क्योंकि नामालूम कितना गहरा गड्ढा पानी में डूबा हुआ हो. ऐसे में कोशिश करें कि जाने पहचाने रास्ते से ही जाने की कोशिश करें | चाहे वह रास्ता लंबा ही क्यों ना हो |

8. वाइपर तथा ब्रेक का दुरुस्त होना दुर्घटना से बचाने में सहायक होता है | इसके लिए बारिश के मौसम से पहले ही, बल्कि यूं कहिए कि समय-समय पर ब्रेक फ्लूइड तथा इमरजेंसी हैंड ब्रेक की जांच कराते रहें, जिससे आपकी ड्राइविंग आसानी से हो सके |

9. बरसात के दिनों में ज्यादा घिसे टायरों पर गाड़ी चलाना खतरनाक सिद्ध हो सकता है | क्योंकि भीगी सड़क के चिकनी होने के कारण और टायरों की सड़क पर कम पकड़ होने से गाड़ी के स्लिप होने के चांसेस बढ़ जाते हैं | इसलिए टायर अगर पुराने हो गए हो तो उन्हें बदल दें |

यदि आप इन सभी बातों का ध्यान रखेंगे तो आप बारिश के मौसम में भी बिना किसी दुर्घटना के बड़े आराम से गाड़ी चला सकते हैं | इन दिनों बारिश के मौसम में कई ऐसी दुर्घटनाएं हो रही है जो छोटी मोटी लापरवाही के कारण होती हैं | यदि लोग इस तरह की लापरवाही ना करके थोड़ी सी सावधानी बरतें तो गाड़ी तो बचेगी ही साथ ही उसमें बैठने वाले लोगों की जान भी बच जाएगी |